पिटारा भानुमती का

जनवरी 8, 2007

एक पेड़

Filed under: अश्रेणीबद्ध — अमित @ 12:00 पूर्वाह्न

एक खूबसूरत सा पेड़ जिसके दिन की शुरुआत किसी कोयल के मधुर गीत से नहीं होती, बल्कि यह तो हमेशा सहमा-सहमा रहता है. गाज़ा पट्टी के इलाके में खड़ा है यह!

पता नहीं कब बारूद के ढेर इसको राख कर दें! बस आसमान में बाँहें फैलाये दुआ ही माँग सकता है – अपने लिये, उन मासूमों के लिये जो स्कूल से लौटते वक्त इसकी छाँह में खेला करते थे कभी, और उनके लिये जिनसे इसकी कोई रंजिश तो नहीं पर फिर भी इसकी जान के दुश्मन बने हैं.

यह चित्र मैंने एट्रियम चित्र प्रदर्शनी (दिसम्बर २००६) में अपने कैमरे में उतारा था. चित्र लेने की अनुमति देने के लिये आयोजकों का धन्यवाद.

6 टिप्पणियाँ »

  1. चित्र सुंदर है और विवरण भी. पीछे काफी बड़ी बस्ती दिखती है.

    टिप्पणी द्वारा समीर लाल — जनवरी 8, 2007 @ 1:36 पूर्वाह्न | प्रतिक्रिया

  2. सुंदर विवरण। सही कहा, आपने इस्लामी आतंकवादियों ने इस जमीन को दोजख बना दिया है।

    टिप्पणी द्वारा Shrish — जनवरी 8, 2007 @ 4:18 पूर्वाह्न | प्रतिक्रिया

  3. खूबसूरत!

    टिप्पणी द्वारा अनूप शुक्ला — जनवरी 8, 2007 @ 4:19 पूर्वाह्न | प्रतिक्रिया

  4. khubsurati kyaa hai ye to nahi jaan paayaa is chitra me par peeche kee bastee kee chintaa jyadah honi thi.

    टिप्पणी द्वारा ravindra — जनवरी 8, 2007 @ 5:52 पूर्वाह्न | प्रतिक्रिया

  5. आप सब का टिप्पणियों के लिये धन्यवाद.

    भाई श्रीश, आतंक मचाने वालों का कोई मजहब नहीं होता. और इनमें से अधिकांश तो किसी की कठपुतली मात्र होते हैं जिनकी डोर किसी देश की सरकार के हाथ में भी हो सकती है और भूमिगत हुये किसी कायर के पास भी.

    रवीन्द्र भाई, हम सबको भी पीछे वाली बस्ती की चिंता है, बस बात कहने के लिये पेड़ एक संकेत मात्र था, या कहिये कि बस्ती का ही एक प्रतिनिधि था.

    टिप्पणी द्वारा अमित — जनवरी 8, 2007 @ 10:57 अपराह्न | प्रतिक्रिया

  6. picture ie beautiful…it would be better if there r 2-3paras on a tree-aatmakatha

    टिप्पणी द्वारा sai swaroopa — मार्च 4, 2009 @ 2:52 अपराह्न | प्रतिक्रिया


RSS feed for comments on this post. TrackBack URI

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

WordPress.com पर ब्लॉग.

%d bloggers like this: